Neend Na Aane Ki Dua

Recently updated on January 7th, 2019

Neend Na Aane Ki Dua
5 (100%) 1 vote

Agar kisi shakhs ko neend na aane ka marz ho. Jab bhi wo sone jata ho. Kabhi neend se bhari aankhein na rehti ho. To phir neend na ane ki bimari se nijat hasil karne ke liye aur khushnuma gehri neend sone ke liye neend na aane ki dua ko parhkar so jayiye.

Neend Na Aane Ki Dua With Translations & HD Images


Sallallahu ‘Alayhe Wasallam

neend na aane ki dua in hindi with translations

ALLAHUMMA Ghaaritinnujoomu wa hadaatil ‘uyooni wa antaa ‘Hayyu Qayyumu-llatakhuzuka sinatunwalaa nawmun, ya ‘Hayyu ya Qayyumu! ihdee laylee wa anim ‘aynee

ALLAHUMMA Ghaaratinnujoomu wa hadaatil ‘uyooni wa antaa ‘Hayyu Qayyumu-llatakhuzuka sinatunwalaa nawmun, ya ‘Hayyu ya Qayyumu! ihdee laylee wa anim ‘aynee

या अल्लाह सितारे छुप गए और आँखें पुर सुकून हो गयी, आप ही ‘हय्यू क़य्यूम है आपको न ऊंघ आती है न नींद ऐ हय्यू क़य्यूम मेरी रात को पुर सुकून बना दीजिए और मेरी आँख को नींद आता फरमा दीजिए

Neend Na Aane Ki Dua in Quran

Roman English Version

Neend na aane e marz ka Quran-e-Pak mein pur asar ilaj maujood hai. Beshak ke Quran-e-Majeed hamare liye shifa hai. Jab kisi shakhs ko neend na aaye to kya dua padhe?

Mujhe log bar-bar puch chuke hai ke neend na aane ki dawa batao? Ye post unhi zarurat mand logon ke liye hai. Jinhe rat ke waqt neend na aane ki beemari hai. Yahan Acha Ghar Milne Ka Wazifa-Makan Banane Ki Dua dekhiye!

Neend na aane ki dawa yani jisko khakar neend ajaye. Ye khane se behtar hai dua padhi jaye. Kyon ke dawa ke nuqsanaat (side effects) bahut hai. Ek bar neend ane ke liye aapne agar dawa lena shuru kiya to phir uski adat ho jayegi.

Aur bila uske phir nind nahi aapayegi.

Lakh chahkar bhi wo log rat ko sukoon ki neend nahi le pate. Kuch ko neend nahi aane ka marz hota hai. Aur kuch ko adat. Har ek tarah ke masle ka hal is dua se mumkin hai. Alhamdulillah.

Neend Na Aane Ki Wajah Kya Hai?

Neend na aane ki akhir kya wajah hoti hai? Kuch log shuru se der rat jaagte hai aur phir unhe subah talak hi sone ki adat parh jati hai. Jiski wajah se phir unhe rat ko nind nahi ati.

Jaldi sona aur phir jaldi fajr mein uthna achhi adat hai. Rat ko der se sona nahusat hoti hai. Khane Khane Se Pehle aur Bad Ki Dua HD Images.

Kuch log raat ko kam karne ki adat bana lete hai. Jiski wajah se unhe rat ko neend aana band ho jati hai. Aur phir wo din bhar sote hai. Ye qudrat ke nizam ke khilaf hai jo ki jismani aur dimaghi sehat ke liye nuqsan deh sabit hota hai.

Kuch log kisi dusri beemari ki wajah se raat ko thik se ya bilkul nahi so pate. Ab unhe neend kaise aye?

Tamam neend na aane ki beemariyon se nijat hasil karne ke liye ye dua mu’aljah hai. Jo yahan maujood hai wahi sab marz ke liye shifa hai.

Achhi aur Sukoon Bhari Neend Sone Ke Liye Kya Karna Chahiye?

Adat dal lijiye ke rat ko sone se qabl wuzu bana liya jaye. Jab aap neend mein honge wuzu banane se wo lamhe bhi ibadat ka savaab ata karenge. Aur sone se pehle kam-az-kam 10 bar astagfar parha jaye:

Astagh firullahe rabbi min kulli zambinw watubo ilayhe

Upar di hui astaghfar ki dua ko tafseel se is link par dekhiye- Dua for Forgiveness of All Sins in Islam

Isse ALLAH Ta’ala apke tamam din bhar ke jan kar aur anjane mein kiye hue gunahon ko maaf karega, Insha ALLAH Ameen.

Aur phir neend na aane ki is asan aur chhoti si dua ka wird karte rahiye. Insha ALLAH wird ke dauran hi neend ajayegi. (neend na aane ki dua upar dekhiye).

Ghaur Kijiyega: Khawateen nind na aane ki dua ko haiz/maahwari/ayyam ke dinon mein bhi parh sakti hai. 

Neend Aane Ki Beemari Aur Dua in Quran in Hindi

नींद आने की दुआ क़ुरआन में हिंदी में 

नींद आने की क़ुर’आन-ए-पाक में पुर असर इलाज मौजूद है| बेशक के क़ुर’आन-ए-मजीद हमारे लिए शिफ़ा है| जब किसी शख्स को नींद न आये तो क्या दुआ पढ़े?

मुझे लोग कई बार-बार पूछ चुके है के नींद न आने की दवा बताओ? ये पोस्ट उन्ही ज़रूरत मन्द लोगों के लिए है| जिन्हे रात के वक़्त नींद न आने की बीमारी है|

नींद न आने की दवा यानि जिसको खाकर नींद आ जाए| ये खाने से बेहतर है दुआ पढ़ी जाये| क्यों के दवा के नुक़सानात (साइड इफेक्ट्स) बहुत है| एक बार नींद आने के लिए आपने अगर दवा लेना शुरू किया तो फिर उसकी आदत हो जाएगी|

और बिला उसके फिर नींद नहीं आ पाएगी| यहाँ बच्चे को सुलाने की दुआ देखिए!

लाख चाहकर भी वो लोग रात को सुकून की नींद नहीं ले पाते| कुछ को नींद नहीं आने का मर्ज़ होता है| और कुछ को आदत हो जाती है| हर एक तरह के मसले का हल इस दुआ से मुमकिन है| अल्हम्दुलिल्लाह|

नींद न आने की वजह क्या है?

नींद ना आने की आखिर क्या वजह होती है? कुछ लोग शुरू से देर रात जागते है और फिर उन्हें सुबह तलक ही सोने की आदत पढ़ जाती है| जिसकी वजह से फिर उन्हें रात को नींद नहीं आती|

जल्दी सोना और फिर जल्दी फज्र में उठना अच्छी आदत है| रात को देर से सोना नहूसत होती है|

कुछ लोग रात को काम करने की आदत बना लेते है| जिसकी वजह से उन्हें रात को नींद आना बन्द हो जाती है| और फिर वो दिन भर सोते है| ये क़ुदरत के निज़ाम के खिलाफ है जो की जिस्मानी और दिमाग़ी सेहत के लिए नुकसानदेह साबित होता है| यहाँ अज़ान के बाद की दुआ हिंदी में तमाम तर्जुमा के साथ देखिए!

कुछ लोग किसी दूसरी बीमारी की वजह से रात को ठीक से या बिलकुल नहीं सो पाते| अब उन्हें नींद कैसे आए?

तमाम नींद न आने की बीमारियों से निजात हासिल करने के लिए दुआ मु’आलजाह है| जो यहाँ मौजूद है इन सब के लिए शिफ़ा है|

अच्छी और सुकून भरी नींद सोने के लिए क्या करना चाहिए?

आदत डाल लीजिये के रात को सोने से क़ब्ल वुज़ू बना लिया जाये| इससे जब आप नींद में होंगे वुज़ू बनाने से वो लम्हे भी इबादत का सवाब ‘अता करेंगे| और सोने से पहले कम-अज़-कम 10 बार अस्तग़फ़ार पढ़ा जाए|

अस्तग़ फिरुल्लाहे रब्बी मिन कुल्ली ज़म्बिंव व अतूबो इलैयहे

ऊपर दी हुई अस्तग़फ़ार की दुआ को तफ्सील से इस लिंक पर देखिये- हर गुनाह की माफ़ी के लिए इस्लामी दुआ

इससे अल्लाह त’आला आपके तमाम दिन भर के जान कर और अनजाने में किये हुए गुनाहों को माफ़ करेगा, इन्शा अल्लाह आमीन|

और फिर नींद न आने की इस आसान और छोटी सी दुआ का विर्द करते रहिये| इन्शा अल्लाह विर्द के दौरान ही नींद आजायेगी| (विर्द के लिए नींद न आने की दुआ ऊपर देखिए)|

ग़ौर कीजिएगा: ख़वातीन नींद ना आने की दुआ को हैज़/माहवारी/अय्याम के मख़सूस दिनों में भी पढ़ सकती है


4 Comments

  1. abdurahman ayinde sulaimon on said:

    Assalam alaykum.please,explain the usefulness of Dua in english language

    • Insha ALLAH, we will update this dua for sleep in English also within a couple of hours.

  2. Fatima on said:

    Assalmualaikum how can i contact u in personal….??

Apne sawal yahan puchiye!