How to Protect Yourself from Evil Eye on Baby 100% Hifazat | yaALLAH.in

How to Protect Yourself from Evil Eye on Baby 100% Hifazat | yaALLAH.in
4.45 (89.02%) 51 votes

बुरी नज़र लग जाने पर बचा बीमार पर जाता है| कहना पीना छोड़ देता है| रोना-धोना शुरू कर देता है| बच्चा चिड़चिड़ा हो जाता है| बा’ज़ औक़ात तो हर कोशिश करने के बद भी बुरी नज़र का तोर नहीं हो पता| बचा अलग तकलीफ में और माँ बाप अलग बेहाल| बच्चों की कमज़ोरी दूर करने का वज़ीफ़ा यहाँ देखें|

Advertisement

अब उन वालेदैन को परेशान होने की ज़रा भी ज़रूरत नहीं| इन्शा अल्लाह इन वज़ाइफ़ और तावीज़ात  से खूब फवाइद उन्हें मिलेंगे और नज़र का तोड़ भी हो जायेगा, आमीन|
अल इमरान की तरफ से सभी नन्हे बच्चों के वालेदैन के लिए एक ख़ूबसूरत तोहफा क़ुबूल कीजिये|

निगाह-ए-बद का मुजर्रब तोड़

वज़ीफ़ा ‘अदद 1

अगर किसी बच्चे को किसी भी इन्सान की नज़र फौरी तौर पर पकड़ लेती हो, यानि उसे फ़ौरन नज़र लग जाती हो| तो उसके वालेदैन या कोई बहन-भाई या कोई भी अज़ीज़-ओ-ख़ास उस के लिए या अल्लाह का ये बेहतरीन अमल पढ़ सकता है| इन्शा अल्लाह जल्द ही फायदाह होगा, आमीन|

अमल करने का तरीक़ा क्या है?

इस्म -ए-मुबारक ‘या बर्रू’ सात मरतबा पढ़ कर बच्चे पर दम किया जाये| याद रहे वुज़ू से अमल करेंगे तो फायदाह ज़रूर होगा| ये वज़ीफ़ा तब तक रोज़ाना दम करें जब तक बच्चे पर से बुरी नज़र उतार न जाये| इन्शा अल्लाहुल अज़ीज़, जल्द निगाह-ए-बद का तोड़ हो जायगा और बच्चे पर से बुरी निगाह के असर की काट दफ़ह हो जाएगी|

Advertisement

ग़ौरतलब:ख़वातीन हैज़/माहवारी के दौरान नापाकी की हालात में जा नमाज़ पर बैठे बिल ये वज़ीफ़ा पढ़ सकती हैं|

नक़्श बराए नज़्र-ए-बाद नाबालिग़ बच्चों के लिए

वज़ीफ़ा अदद 2

जिस बच्चे को आसानी से नज़र लग जाती हो| उस के लिए ये वज़ीफ़ा मु’अस्सिर साबित होगा इन्शा अल्लाह| बच्चे की नज़र उतरने के लिए या नज़्र-ए-बद से बचने के लिए आप ये वज़ीफ़ा कर सकते हैं जो के बहुत ही आसान है|

नक़्श बनाने का तरीक़ा क्या है?

  • ये नक़्श किसी भी दिन और किसी भी मुनासिब वक़्त बनाया जा सकता है|
  • सब से अव्वल वुज़ू बनाएं |
  • एक पाक साफ काग़ज़ और कोई भी स्याही भरी क़लम लीजिये|
  • अब उस क़लम की मदद से काग़ज़ पर इस्म-ए-मुबारक ‘या मुमीतु’ इस तरह से लिखिए,

یا ممیت

یا ممیت یا ممیت

یا ممیت یا ممیت

  • फिर इस काग़ज़ का तावीज़ बना कर बच्चे के गले में डाल दिया जाये|
  • जब तक असर महसूस न हो, बच्चे को तावीज़ पहनाये रखिये|
  • इन्शा अल्लाह, इस तावीज़ की तासीर से हर बुरी नज़र का ख़ात्मा होगा और फिर बच्चे को कभी भी किसी की भी नज़र नहीं लगेगी| आमीन!\

ग़ौरतलब:ख़वातीन हैज़/माहवारी के दौरान ye तावीज़ न बनाएं बल्कि अपने शौहर से बनवाएँ|

बच्चे से बुरी नज़र उतारने का बेहतरीन और आसान वज़ीफ़ा

वज़ीफ़ा अदद 3

अगर आपके बच्चे को किसी की बुरी नज़र लग चुकी है और किसी सूरत आप वो नज़र नहीं उतार प् रहे, तो आप फ़ौरन ये वज़ीफ़ा पढ़ना शुरू करें| इन्शा अल्लाह, तीन ही दिन के अन्दर अन्दर बच्चे के ऊपर से बुरी नज़र उतार जाएगी| बच्चा फिर से हँसने खेलने लगेगा, आमीन|

अमल करने का तरीक़ा क्या है?

  1. सब से अव्वल वुज़ू बनाइये|
  2. सुरह अल-आदियात (सुरह ‘अदद 100) 41 मरतबाह पढ़ कर पानी पर दम कर दीजिये|
  3. फिर ये दम किया हुआ पानी बच्चे को पिला दें|
  4. 3 दिन तक ये अमल बिला नागाह कीजिये|
  5. इन्शा अल्लाह, बच्चे पर लगी बुरी नज़र का असर हमेशा के लिए ज़ाएल हो जायेगा और बच्चे को दुबारा कभी नज़र नहीं लगेगी इन्शा अल्लाह, आमीन!

ग़ौरतलब:ख़वातीन हैज़/माहवारी के दौरान ये वज़ीफ़ा न पढ़े|

बच्चे को बुरी निगाह से महफूज़ रखने के लिए अल इमरान की जानिब से असरदार तावीज़

वज़ीफ़ा अदद 4

अगर आप चाहते हैं के आपका प्यारा बचा हमेशा सेहत-ओ-तंदरुस्ती की ज़िन्दगी बसर करे और लोगों की बुरी निगाह से हमेशा बचा रहे| तो आप ये तावीज़ बना कर अपने बच्चे को पहना सकते हैं| इन्शा अल्लाह, बच्चे के लिए बहुत फायदाहमन्द साबित होगा|

तावीज़ बनाने का तरीक़ा क्या है?

इस्म-ए-मुबारक ‘या मानी’अ’ ताम्बे के पतरे पर सात मरतबाह खुदवा कर तावीज़ बना कर बच्चे के गले में डाल दे|

یا مانع

इन्शा अल्लाह, अल्लाह के फज़ल से बच्चा हमेशा बुरी निगाह से महफूज़ रहेगा|

Wazifa #1 Child Safety from Evil Eye 

English Version

Strong and 100% Working Cure from Evil Eye

If there is a child who has been suffering from evil eye effects. In this case either of his parents can perform this wazifa. If it seems hard for them the close ones can go ahead.

How to Perform this Amal?

Recite the lovely name ‘ya Barru’ of ALLAH Jalla Jalaaluhoo seven (7) times. Afterward, blow it on the child. Repeat this process till the evil eye nullification. Insha ALLAH soon you will find that the child will be cured, Ameen.

Note: Females should not perform this wazifa during their menses/periods. 

Wazifa #2 Amulet to Get a Cure from Evil Eye on Minor Child

The child who gets effected easily with the evil eye, whatever the cause may be. This wazifa will help that child in order to get rid of those evil eye effects Insha ALLAH Ameen. This wazifa is very easy and strong.

How to Make an Amulet?

  • You can make this amulet any day and at any suitable time.
  • In the very beginning make a fresh ablution.
  • Get one pure and cleansed white paper.
  • Get one cleansed pen with filled ink. Now, write ‘ya Mumitu‘ as written below.

 یا ممیت

یا ممیت  یا ممیت

یا ممیت  یا ممیت

  • Then, wrap this paper up as an amulet and tie it around the neck of your child.
  • Let it be tied till you see the positive effects.

Insha ALLAH, through the help of this amulet any type of evil eye will be warded off.

Note: Females should not perform this wazifa during their menses/periods. 

Wazifa #3 Easy Wazifa to Get Rid off Evil Eye from a Child

If your child is effected by evil eye and it seems hard for you to nullify it. This wazifa will definitely help you Insha ALLAH. Start reciting this wazifa for at least 3 days non-stop. You will get to know that the evil eye effects on your child has been warded off.

How to Perform the Amal?

  • In the state of an ablution.
  • Recite Surah Al-Aadiyaat (surah # 100) Forty one (41) times.
  • Blow it on water.
  • Let the child drink this water.
  • Do this continuously for 3 days.

Insha ALLAH, the evil eye effects on the child will have vanished forever and he will be safeguarded from this in future also, Ameen!

Note: Females should not perform this wazifa during their menses/periods. 

Wazifa #4 Amulet to Safeguard your Child from Bad Eye Effects

If you desperately need that your child shall remain safe from bad eye effects during his entire lifetime. Then, this wazifa is definitely for you. Make this amulet and tie it around your child’s neck, Insha ALLAH he will be secured for his entire life, Ameen.

How to Make this Amulet?

Get the lovely name of ALLAH ‘ya Maniu’ written seven (7) times on a square small brass plate. Tie this as an amulet around the child’s neck. Insha ALLAH he will remain safe during his entire life from bad eye of people around him.

Advertisement

10 thoughts on “How to Protect Yourself from Evil Eye on Baby 100% Hifazat | yaALLAH.in

  1. #make dua for me
    As salamualykum rehmatullahi barkatahu
    I am Anees
    I need loads of duas meri duaon ki qubooliyat k liye… I have been struggling with my life, lots of issues i cant share it here. Bas mere liye itna dua karna k Allah Ta’ala mere tamam duaen qubool krle… Insha Allah ameen..
    Jazak Allahu khairan kaseeran 🙂

  2. Asslamualaikum wa rehmatulilahi wa barakatuhu…. Sir mere bhai ka ladka ded saal ka ho gya hai but na wo beth pata hai or na hi chalna sikha hai… Actully jab wo paida hua tha tab uske dimag me ghanda panj bhar gya tha jiski vjh se wo roya nahi tha fir jab se hi uska tritmant chal rha hai . Hum acchr se acche dr. Se uska tritmant karwa rahe hai…
    Dr. Ka kehna hai ki uske dimag ki kami ki vjh se wo dusre baccho ki trha jaldi jaldi activity nahi karpata hai…
    Wo samjhta sab hai .. Sunta bhi sahi hai rota hai hasta h or har baate samjha deta hai… Lekin wo na abhi tak uthna sikha hai or na hi chalna hum sahara laga kar betha dete hai to beth jata hai…

    Hume uske bhavisy ki bahut chinta hoti hai or allah se duaa krte hai ki wo jaldi se uthna bethna chalna sikh jay der saal ka hone k baad bhi hume use gpdi me rakhna padta hai…

    Plz koi wajifa ho to bataye

  3. I am 52 years old and suffering from evil power last 20 years my home is at kanpur.pl tell me what I have to do.

  4. bhai ma ne istikhara kiya tha pr mujhe khwab smjh me ni aya k positive ha k negative ma ne khwab me dekha k koi aurat rishta la k ai hoti ha hmare ghr us k pas bht se khushk mewah jat hote hain garii badam etc ap plz mujhe btain is khwab ka mtlb plz plz plzzzzzz

Comments are closed.